Tuesday, May 24, 2022
Homeधर्मरमजान Special: भारतीयों के रोजे मक्का-मदीना से ज्यादा कठिन

रमजान Special: भारतीयों के रोजे मक्का-मदीना से ज्यादा कठिन

सऊदी अरब के मक्का-मदीना से ज्यादा कठिन रोजे भारतीयों के हैं।

सऊदी अरब के मक्का-मदीना से ज्यादा कठिन रोजे भारतीयों के हैं। इसकी वजह दिन का तापमान और रोजे की अवधि है। भारत के कई शहरों में दिन का तापमान 40 के ऊपर है जबकि मक्का-मदीना में यह 36 डिग्री है। वहीं, रोजे की अवधि सऊदी अरब में करीब 14.30 घंटे है तो भारत में यह15 घंटे है। 

कड़ा इम्तिहान : 7 मई को रमजान शुरू होने के बाद से ही तापमान 40 से 45 के बीच बना हुआ है। दिल्ली, रायपुर, पटना, कानपुर, अहमदाबाद में दिन में चिलचिलाती धूप हो रही है। 

15 साल से कठिन : हर वर्ष रोजे 10 दिन पीछे आ जाते हैं। यानी अगले साल अप्रैल के अंतिम हफ्ते में रोजे की शुरुआत होगी। इस प्रकार गत 15 साल से रोजे गर्मी के मौसम में पड़ रहे हैं जिसमें रोजे की अवधि भी लंबी होती है। 

पाक का यही हाल : इथोपिया, लीबिया, सूडान, ओमान, इराक जैसे देशों को गर्म माना जाता हैं पर यहां भी तापमान कम है। जबकि भारत, पाक और बांग्लादेश गर्म हैं। 

इस साल रूस में रोजे की सबसे अधिक अवधि है। यहां के मुरमंस्क में 20.45 घंटे का रोजा है। हालांकि यहां पर तापमान अधिकतम 10 डिग्री के करीब है। इसकी वजह से रोजेदारों के लिए थोड़ी राहत मिलती है।

शहर अधिकतम तापमान 
मक्का-34

मदीना-39

दिल्ली-0.3

दुबई-37

बगदाद-36

पटना-43

Source :- www.livehindustan.com

Leave a Reply

Must Read

spot_img