Sunday, June 19, 2022
Homeदेशलंदन: नीरव मोदी गिरफ्तार, 29 मार्च को वेस्टमिंस्टर कोर्ट में होगी अगली...

लंदन: नीरव मोदी गिरफ्तार, 29 मार्च को वेस्टमिंस्टर कोर्ट में होगी अगली सुनवाई

भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को बुधवार को यहां स्कॉटलैंड यार्ड ने गिरफ्तार कर लिया। अब वेस्टमिंस्टर कोर्ट में इस मामले को लेकर अगली सुनवाई चीफ मजिस्ट्रेट के सामने 29 मार्च को होगी। करीब दो अरब डॉलर के पंजाब नेशनल बैंक घोटाला मामले में वांछित भगोड़े कारोबारी को भारत वापस लाने के प्रयासों की दिशा में इसे बड़ी सफलता माना जा रहा है।

प्रत्यर्पण निदेशालय ने मनी लौंड्रिंग के एक मामले में नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के लिये लंदन की एक अदालत में अपील की थी। अदालत ने अपील पर सुनवाई करते हुए मंगलवार को नीरव मोदी के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था।

स्कॉटलैंड यार्ड ने एक बयान में कहा है कि नीरव दीपक मोदी को भारतीय एजेंसियों की तरफ से 19 मार्च को हॉलबार्न में गिरफ्तार कर लिया गया। उसे 20 मार्च को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया जाएगा।

गिरफ्तारी की जगह से इस बात के संकेत मिलते हैं कि नीरव मोदी वेस्ट एंड के सेंटर पाइंट के उसी आलीशान अपार्टमेंट में रह रहा था जहां उसके होने की आशंका व्यक्त की जा रही थी। ऐसा लग रहा है कि उसे प्रत्यर्पण वारंट पर गिरफ्तार किया गया है। नीरव मोदी को अदालत में पेश किये जाने के बाद इस बारे में स्थिति स्पष्ट होगी।

नीरव मोदी को अदालत में पेश किये जाने के बाद औपचारिक तौर पर उसके खिलाफ आरोप तय किये जाएंगे। इसके बाद वह जमानत की अपील कर सकता है। बाद में इस मामले में भी ब्रिटेन की अदालत की उन्हीं प्रक्रियाओं का दोहराव होगा जो धोखाधड़ी एवं मनी लौंड्रिंग के मामले में अप्रैल 2017 में विजय माल्या की गिरफ्तारी के बाद हुआ है। माल्या उसके बाद से जमानत पर है।

वीडियो में लंदन में घूमते नजर आए नीरव मोदी

ब्रिटेन के एक दैनिक समाचार पत्र ने हाल ही में एक रिपोर्ट और वीडियो जारी की जिसमें मोदी लंदन की सड़कों पर घूमता दिखाई दे रहा था और बताया गया कि भगोड़ा हीरा व्यापारी शहर के वेस्ट एंड में 80 लाख पाउंड के एक अपार्टमेंट में रह रहा है तथा वह हीरे का नया कारोबार भी चला रहा है।

नीरव मोदी नहीं चाहते देश लौटना
नीरव ने पिछले महीने विशेष अदालत को कहा था कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। उन्होंने कहा कि वह सुरक्षा कारणों से देश वापस नहीं लौट सकते। नीरव मोदी के अलावा ईडी ने 13,500 करोड़ रुपये के पीएनबी (पंजाब नेशनल बैंक) घोटाले की जांच के सिलसिले में मेहुल चोकसी के गीतांजलि समूह की कंपनी एब्बेक्रेस्ट लिमिटेड की थाईलैंड में एक फैक्ट्री को जब्त करने का अनुरोध भेजा है, जिसकी कीमत 13 करोड़ रुपये है।

क्या है पूरा मामला 
पंजाब नेशनल बैंक से 13,500 करोड़ रुपये के धोखाखड़ी मामले में वांछित भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी पर प्रवर्तन निदेशालय मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रहा है। नीरव मोदी के खिलाफ 15 फरवरी 2018 को सीबीआई ने केस दर्ज किया था। ईडी ने सीबीआई द्वारा दर्ज की गई एफआईआर के आधार पर पिछले साल 15 फरवरी को दोनों आरोपियों नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के खिलाफ मनी लांडरिंग का मामला दर्ज किया था। ईडी अब तक चोकसी और नीरव मोदी की 4,765 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर चुका है।

Source :- www.livehindustan.com

Leave a Reply

Must Read

spot_img