Wednesday, June 22, 2022
Homeउत्तर प्रदेशमौजूदा सरकार में अल्पसंख्यक व दलित सुरक्षित नही- सरवर खान

मौजूदा सरकार में अल्पसंख्यक व दलित सुरक्षित नही- सरवर खान

उत्तर प्रदेश /महराजगंज


दबंग भारत न्यूज़ – आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन महराजगंज यूनिट ने मौलाना कलीम सिद्दीकी की रिहाई की माँग व असम के दरंग बेकसूर प्रदर्शकारियों पर गोली चलाने तथा इंसानियत को शर्मसार करने को लेकर जुलूस की शक्ल में जिला मुख्यालय पहुँच कर जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया इस बीच कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की ए०आई०एम०आई०एम० जिलाध्यक्ष सरवर खान ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि प्रदेश की सरकार अपनी नाकामीयों से ध्यान हटाने के लिए साम्प्रदायिक राजनीति को हवा देने के लिए मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफ्तारी का षड्यंत्र रचा है। जिसके तहत प्रतिष्ठित मौलाना कलीम सिद्दीकी साहब को धर्मांतरण का झूठा आरोप लगा कर गिरफ्तार किया गया है ताकि हिन्दू-मुसलमानों के बीच नफरत की खाई पैदा करके अपनी नाकामियों से जनता का ध्यान हटाया जा सके।

सरवर खान ने कहा कि एटीएस के पास एक भी ठोस सबूत नहीं है जिसके कारण स्पेशल कोर्ट ने पुलिस कस्टडी में भेजने की अपील को खारिज कर दिया। प्रदेश सरकार माहौल खराब करने के लिए कार्यवाही की है हम सरकार से मांग करते हैं मौलाना कलीम सिद्दीकी साहब व उनके साथियों को जल्द से जल्द रिहा किया जाए तथा उनके ऊपर लगाए गए फ़र्ज़ी इल्ज़ाम वापस। सरवर खान ने आगे कहा कि असम के दरंग में अपनी ज़मीनों को बचाने के लिए प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शकारियों पर पुलिस ने गोलियां चलाईं जिसमें 2 लोगो की मौत हो गई तथा 20 लोग घायल हो गए। जिस तरह की बर्बरियत एक पत्रकार की वो मानवता को शर्मसार करने वाला है हम असम सरकार से माँग करते हैं कि उस पत्रकार को जल्द से जल्द गिरफ्तार करे।

इस मौके पर जिलाध्यक्ष सरवर खान, जिला महासचिव एकबाल अहमद, सुंदर चन्द्र भारती जिलाध्यक्ष SC St प्रकोष्ठ, सदरे आलम खान जिला सोशल मीडिया प्रभारी, जिला संयुक्त सचिव हाफिज अली हसन, जिला संयुक्त सचिव आबिद सिद्दीकी, सदर विधानसभा अध्यक्ष शफी मोहम्मद, पनियरा विधानसभा अध्यक्ष महबूब आलम, नौतनवा विधानसभा अध्यक्ष कमरुद्दीन खान, भावी प्रत्याशी पनियरा विधानसभा संजीव यादव, जियाउलहक खान, आफताब खान, आमिर खान,औरंजेब, साहब सिद्दीकी, मुराद सिद्दीकी, सैफ अली खान, वसी अहमद, मौलाना तसव्वर, अफ़ज़ल खान, सुग्रीव भारती, जहांगीर कादरी, मौलाना सलिमुल्लाह, अब्दुल रहमान, व अन्य तमाम पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Must Read

spot_img